(लास्ट डेट) मेरी फसल मेरा ब्यौरा रजिस्ट्रेशन 2023 गेट पास Meri Fasal

मेरी फसल मेरा ब्यौरा गेट पास 2023 ई-खरीद किसान पंजीकरण, Meri Fasal Mera Byora Portal payment status, gate pass, last date of registration etc.

हरियाणा सरकार के द्वारा राज्य के किसानों के कल्याण हेतु Meri Fasal Mera Byora Portal का शुभारंभ किया गया| सरकार के द्वारा मेरी फसल मेरा ब्यौरा रजिस्ट्रेशन पोर्टल शुरू करने का मुख्य उद्देश्य फसलों की जानकारी एवं विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ किसानों तक पहुंचाने में आसानी होगी| इसके साथ ही मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर किसान अपनी फसल का विवरण दर्ज करवा सकते हैं| आज हम आपको अपने लेख के माध्यम से मेरी फसल मेरा ब्यौरा पंजीकरण हेतु पात्रता मापदंड, मुख्य दस्तावेज, अंतिम तारीख इत्यादि की जानकारी प्रदान करेंगे|

जैसा कि हम सब जानते हैं हरियाणा सरकार के द्वारा राज्य के किसानों के लिए बहुत सी सरकारी योजनाओं का शुभारंभ किया गया है| इस पोर्टल की सहायता से हरियाणा के किसान भाई अपनी जमीन और फसल के विवरण की रिपोर्ट प्राप्त कर सकते हैं| हरियाणा के जो किसान मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर अपनी fasal संबंधित विवरण दर्ज करेंगे उन्हें सरकार के द्वारा चलाई जा रही विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ दिया जाएगा| भारत सरकार और हरियाणा सरकार के द्वारा उनके राज्य में डिजिटलीकरण के लिए बोसी सरकारी योजनाओं का शुभारंभ ऑनलाइन माध्यम से किया गया है| राज्य के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल जी खट्टर का कहना है कि हरियाणा सरकार कृषि एवं किसान कल्याण के लिए ऐसे बहुत से कार्यक्रम शुरु कर रही है जिनका सीधा फायदा राज्य के किसानों को मिलेगा|

हरियाणा सरकार किसानों को उनकी फसल धान, गेहूं, सरसों, मक्का, बाजरा इत्यादि की खरीद के लिए मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर ओपन जीवन की शुरुआत कर दी गई है| राज्य सरकार के द्वारा पंजीकरण के तिथियों में कुछ बदलाव किए गए हैं तथा समय आने पर पंजीकरण की तिथियों को बढ़ाया भी जाता है जिससे कि किसान आसानी से पंजीकरण कर सके|

मेरी फसल मेरा ब्यौरा रजिस्ट्रेशन 2023 गेट पास

गेहूं एवं सरसों की खरीद के लिए मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर किसानों को पंजीकरण करना होगा| इसके साथ ही हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला जी के द्वारा प्रेस कॉन्फ्रेंस के माध्यम से जानकारी दी गई कि राज्य सरकार की मंडियों में खरीद के लिए व्यापक प्रबंध किए गए हैं| जय हो एवं सरसों की खरीद के लिए सरकार द्वारा 140 मंडियों तथा दो हजार मंडियां और उप-मंडियां
निर्धारित की गई है|

मेरी फसल मेरा ब्यौरा रजिस्ट्रेशन

अबकी बार किसान मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल के तहत 1 जनवरी से पंजीकरण करा सकेंगे यही नहीं किसानों के लिए कॉल सेंटर भी बनाए जाएंगे एक कॉल सेंटर मार्केटिंग बोर्ड के डायरेक्टर के ऑफिस में बनेगा एक सेंटर खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव के ऑफिस में बनाया जाएगा| इससे हर रोज की जानकारी अपडेट होगी हर मंडी में किसान को किसी तरह की दिक्कत ना हो इसके लिए किसान सेवा केंद्र के जरिए समस्याओं का समाधान होगा|

हरियाणा किसानों को कॉमन सर्विस सेंटर से मिलेगी और सुविधा

सरकार के द्वारा किसानों के लिए कॉमन सर्विस सेंटर से सुविधाएं बढ़ाई जाएंगी इसके लिए खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारी इनसे संपर्क में रहेंगे| यह किसानों का पंजीयन करेंगे यही नहीं किसान अबकी बार अटल सेवा केंद्र में जाकर अपनी फसल संबंधित जानकारी और फसल की पेमेंट संबंधी जानकारी का अपडेट ले सकेंगे| किसानों को मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल के तहत अपनी सदर संबंधी जानकारियां अबकी बार 1 जनवरी से देनी होंगी|

इसके लिए खाद्य एवं पूर्ति भैया को पहले से पता चल जाएगा कि प्रदेश में अगेती फसल कितनी है और पछेती कितनी है| किस जिले में कौन सी फसल है क्योंकि किसान फसल संबंधित सारी जानकारी farmer registration haryana portal पर उपलब्ध करवाएंगे ऐसे में गेहूं व सरसों की बिक्री करने के लिए किसी भी तरह की दिक्कत किसान को नहीं होगी|

मेरी फसल मेरा ब्यौरा रजिस्ट्रेशन

जैसा कि हम सब जानते हैं हरियाणा राज्य में सरकार के द्वारा मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल को शुरू किया है. इस पोर्टल को शुरू करने के पीछे सरकार का मुख्य उद्देश्य किसानों को उनकी जानकारी अपलोड करना है तथा किसान फसल पंजीकरण को पूरा करना है. सरकार के द्वारा जिन किसानों की फसल का नुकसान 25 से 32 प्रतिशत, 33 से 49 प्रतिशत, 50 से 74 प्रतिशत और 75 से 100 प्रतिशत फसल खराब होने पर ही मुआवजा दिया जाता है।

इसी के साथ गेहूं के सीजन 2023 मैं किसानों को गेहूं खरीदने की तैयारी शुरू की जा चुकी है अगले सीजन में जो फोरम के जरिए किसानों के खाते में सीधे पेमेंट भेजी जाएगी सभी मंडियों में किसान हेल्प डेस्क बनाए जाएंगे| वर्ष में प्रदेश सरकार 75 से 85 लाख टन गेहूं खरीद के इंतजाम किए जाएंगे| अबकी बार प्रदेश मै 25.34 लाख हेक्टेयर मैं गेहूं बिजाई का लक्षण रद्द किया गया है| जबकि 119 लाख 10 से अधिक कुल उत्पादन का लक्ष्य रखा गया है|

हरियाणा सरकार द्वारा राज्य के किसानों को अपनी फसल का ब्यौरा प्राप्त करने के लिए मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल की शुरुआत की गई है पोर्टल पर आप विभिन्न तरह की जानकारियां प्राप्त कर सकते हैं जैसा कि हमने आपको बताया कि विभिन्न तरह की फसलों को सरकार को भेजने के लिए राज्य के किसानों को लंबी लंबी लाइनों में लेकिन अब सरकार द्वारा ऑनलाइन पोर्टल जारी कर दिया गया है जिसके तहत सबसे पहले उन्हें रजिस्ट्रेशन करवाना होगा रजिस्ट्रेशन करवाने के बाद जिस दिन आपको तारीख दी गई होगी उसी दिन आप मंडी आइए और अपनी फसल को सरकार को बेच सकते हैं.

Key details of Meri Fasal Mera Byora In Haryana

योजना का नाममेरी फसल मेरा ब्यौरा
शुभारंभमनोहर लाल खट्टर
राज्यहरियाणा
लाभार्थीकिसान
पंजीकरण की प्रक्रियाऑनलाइन
किसान पंजीयन की आरंभ तिथि
किसान पंजीकरण की अंतिम तारीख
अधिकारी वेबसाइट

हरियाणा सरकार द्वारा प्रतिदिन 1.5 लाख मैट्रिक टन गेहूं खरीद का प्रस्ताव पेश किया गया है| ठीक है साथ मिली जानकारी के अनुसार मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर तूने किसान पंजीकरण के लिए खोल दिया जाएगा| इसी के साथ अभी तक केवल 60% खाना द्वारा ही पंजीकरण की प्रक्रिया पूरा किया गया है| जबकि 40% किसानों द्वारा फसल की खरीद की प्रक्रिया को पूरा करने के लिए की खरीद कूपन प्राप्त करने हेतु पंजीकरण नहीं कराया गया है|

Meri Fasal Mera Byora

मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल की शुरुआत हरियाणा राज्य के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर द्वारा राज्य के किसानों को फसलों पर विभिन्न तरह की दी जाने वाली (MSP) का लाभ देने तथा विभिन्न तरह की योजनाओं का लाभ एक ही पोर्टल पर देने के उद्देश्य से इस पोर्टल की शुरुआत की गई थी. सरकार द्वारा चेक भी फसलों के रेट बढ़ाए गए हैं उनकी जानकारी भी आपको इस पोर्टल पर प्रदान की जाएगी किसान अपनी फसल कैसे बनियों तक पहुंचाएं. मंडी में फसल का दाम क्या मिल रहा है यह सभी जानकारियां आप इस पोर्टल पर प्राप्त कर सकते हैं. पोर्टल के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने तथा अपनी फसल कैसे वह आप अपने निकटतम मंडी में भेज सकते हैं यह सभी जानकारियां प्राप्त करने के लिए हमारे इस लेख को और तक पढ़ लीजिए

Haryana Meri Fasal Mera Byora Portal 2022 का मुख्य उद्देश्य

हरियाणा सरकार के द्वारा किसानों के फसल पंजीकरण तथा निम्नलिखित उद्देश्यों के लिए मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल का शुभारंभ किया गया|

  • राज्य के किसानों को उनकी फसल का पंजीकरण तथा सरकार के द्वारा चलाई जा रही विभिन्न सरकारी योजनाओं की जानकारी तथा लाभ प्रदान करने के लिए मेरी फसल मेरा ब्यौरा रजिस्ट्रेशन का शुभारंभ किया गया|
  • इसे कृषि विभाग को किसानों द्वारा बॉय की फसलों की जानकारी प्राप्त हो सकेगी|
  • राज्य के सभी किसानों को खाद्य, बीज, ऋण तथा कृषि संबंधित उपकरणों पर सब्सिडी भी प्राप्त होगी|
  • राज्य सरकार हरियाणा के सुनिश्चित करेगी कि किसानों को फसलों का पूर्व निर्धारित समर्थन मूल्य (MSP) बकरीद आ जाए|
  • पंजीकृत किसानों को प्राकृतिक आपदा से होने वाले फसलों के नुकसान की भरपाई और सहायता राशि प्रदान की जाएगी|

Mari Fasal Mera Byora

  • किसानों को फसलों की बुवाई तथा कटाई का सही समय इस पोर्टल पर पंजीकृत करते समय भरना पड़ेगा|
  • सभी इच्छुक एसआर भाई मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल के तहत किसान पंजीयन की प्रक्रिया और अपने खेत का ब्यौरा दर्ज करवा सकते हैं|
  • मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर खाद्य नागरिक आपूर्ति और उपभोक्ता कार्य विज्ञान प्रगति के विभिन्न विभागों को इसी मंच पर लाया जाएगा|
  • ऑनलाइन पोर्टल के माध्यम से किसानों को द्वारा वास्तविक समय के आधार पर फसलों की बुवाई, और फसलों की कटाई मंडी से संबंधित जानकारियां प्राप्त की जा सकेगी|
  • सभी पंजीकृत किसानों की फसल को सरकार के द्वारा निर्धारित समर्थन मूल्य (MSP) पर ही खरीदा जाएगा|
  • कृषि विभाग सभी किसानों को ₹5 तक केवट की दर से भुगतान करेगी|
  • इसी के साथ मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर सभी पंजीकृत किसानों को ₹10 प्रति एकड़ की दर से प्रोत्साहन राशि भी प्रदान की जाएगी|
  • राज्य के सभी किसान डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से प्रोत्साहन राशि का भुगतान सीधे बैंक अकाउंट में किया जाएगा|

Haryana Meri Fasal Mera Byora पात्रता मापदंड

  • आवेदन करता हरियाणा का स्थाई नागरिक होना चाहिए|
  • योजना का लाभ केवल पंजीकृत किसानों को ही मिलेगा|

मुख्य दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • स्थाई निवास पत्र
  • पहचान पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • जमीन के कागजात
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ

किसान पंजीकरण हेतु आवश्यक दिशा-निर्देश

सरकार द्वारा किसानों की आय को दोगुना करने की दिशा में एक सराहनीय कदम कर दिया गया है जिसके तहत शरीर प्यार की खेती पर 8000 वे प्रति एकड़ अनुदान देने की पहल की गई है सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि राज्य सरकार द्वारा एक ही कट बागवानी विकास मिशन के तहत करीब प्याज की खेती अपनाने वाले किसानों को अनुदान राशि दी जाएगी. हरियाणा सरकार द्वारा देश में 140 मंडियों तथा अन्य देशों में हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्योरा योजना की शुरुआत की गई है.

  • मेरी फसल मेरा ब्यौरा किसान पंजीकरण 2022 करने के लिए आवेदन कर्ता के पास आधार कार्ड संख्या होना अनिवार्य है|
  • इस पोर्टल पर पंजीकृत करने के लिए मोबाइल नंबर भी होना अनिवार्य है|
  • पंजीकृत मोबाइल नंबर पर फसलों से संबंधित जानकारी SMS के द्वारा भेजी जाएगी|
  • जमीन की जानकारी के लिए नकल की कॉपी और भारत की कॉपी के अपना मुरब्बा संख्या खसरा संख्या देखकर पोर्टल पर भरना होगा|
  • फसल के नाम इसके साथ उसकी किसने बुवाई का समय कटाई का समय सही तरीके से भरना होगा|
  • बैंक पासबुक की कॉपी आपको पोर्टल पर अपलोड करनी होगी|

Meri Fasal Mera Byora registration Last Date

मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर जाकर किसान अब खुद कर पाएंगे मंडी में धान लाने की तारीख को समय हरियाणा में आने वाले धार की जन मैं मंडी में फसल आने की तारीख और किसान खुद तय कर सकते हैं इसमें किसानों को लंबे इंतजार कोई शिकायत भी दूर हो जाएगी जैसे कि धान की खरीद शुरू होगी.

मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल पर जाकर मंडी में बदल ले जाने का अपना दिन और समय तय कर पाएंगे प्रदेश में 46 लाख 98 हजार 833 एकड़ में धान की फसल लूटी गई है फसल बेचने के लिए 750951 किसानों ने मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर पंजीकृत कराया है 31 अगस्त पंजीकरण के बाद इसे बंद कर दिया गया है 25 सितंबर से जैसे ही सरकारी खरीद शुरू होगी तो पोर्टल को फिर से शुरू किया जाएगा

(आवेदन फॉर्म) हरियाणा हर हित स्टोर योजना डीलरशिप

मेरी फसल मेरा ब्यौरा ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करें?

राज्य के किसान पोर्टल पर पंजीकरण करना चाहते हैं तो नीचे दिया की प्रक्रिया को फॉलो करें:

  • सबसे पहले आपको हरियाणा के मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल के आधिकारिक पोर्टल पर जाना होगा|
मेरी फसल मेरा ब्यौरा रजिस्ट्रेशन
  • अधिकारी पर जाने के बाद होम पेज पर ” पंजीकरण (क्लिक करें) के ऑप्शन का चुनाव करना होगा|
मेरी फसल मेरा ब्यौरा
  • अब आपके सामने कुछ निम्नलिखित चरण दिखाई देंगे जिनमें कि आपको ध्यान पूर्वक अपनी जानकारी भरनी होगी|
मेरी फसल मेरा ब्यौरा रजिस्ट्रेशन
  • सबसे पहले आपको पहले चरण में अपना मोबाइल नंबर दर्ज करना होगा अब आपके मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी आएगा जिसे निर्धारित स्थान पर दर्ज करें|
  • अब आप ओटीपी भरने के बाद जारी रखें ऑप्शन पर क्लिक करना होगा|
  • इसके बाद किसान को सभी चरणों पूरा करने के बाद अंतिम चरण में शाम को अपनी पूछी गई सभी जानकारियां तथा फसल संबंधी विवरण सम्मिट करना होगा|
  • इस तरह आप ऑनलाइन माध्यम से Meri Fasal Mera Byora Portal पर आसानी से पंजीकरण कर सकते हैं|

Meri Fasal Mera Byora आवेदन फॉर्म को प्रिंट कैसे करें?

नीचे प्रदान किए गए कुछ सरल तरीकों के माध्यम से आप ऑनलाइन माध्यम से मेरी फसल मेरा ब्यौरा पंजीकरण फॉर्म का प्रिंट आउट ले सकते हैं|

  • सबसे पहले आपको हरियाणा के मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल पर जाना होगा|
  • आधिकारिक पोर्टल पर जाने के बाद हूं पेट भर आपके सामने पंजीकरण करें का बटन दिखाई देगा|
  • इसके बाद पेट पर दिए गए प्रिंट फॉर्म (Print Form) कब दिखाई देगा|
  • इस विकल्प का चुनाव करने के बाद आपको विभिन्न जानकारियां भरनी होंगी जैसे कि:
  • अपना नाम
  • मोबाइल संख्या
  • बैंक खाता संख्या

Important Note: यह सब जानकारियां आपको अंग्रेजी (English) में डालनी होंगी|

  • अब आपको प्रिंट करेंगे ऑप्शन पर क्लिक करना है|
  • इसके बाद आपके सामने एप्लीकेशन फॉर्म खुल जाएगा जहां पर आपको एप्लीकेशन फॉर्म का प्रिंट आउट ले लेना है|

मंडी में फसल लाने के लिए अनुमानित सप्ताह कैसे सेलेक्ट करें?

  • सबसे पहले आपको मेरी फसल के आधिकारिक पोर्टल पर जाना होगा|
  • आधिकारिक पोर्टल पर जाने के बाद होम पेज पर आपको ” मंडी में फसल आने का अनुमानित सप्ताह चुने” के विकल्प का चुनाव करना है|
  • इसके बाद आपके सामने एक नया फॉर्म हो जाएगा जहां पर आपको अपनी मोबाइल संख्या करनी होगी|
  • चित्र में दर्शाए गए सब को भरने के बाद जारी रखें ऑप्शन पर क्लिक करना है|
  • इसके बाद मंडी में फसल आने का अनुमान इस सप्ताह आपके सामने आ जाएगा या फिर आप अपनी आवश्यकता के अनुसार सप्ताह का चुनाव कर सकते हैं|

मंडी बार गेट पास सूची कैसे देखें?

  • सबसे पहले आपको Meri Fasal Mera Byora की आधिकारिक पोर्टल पर जाना होगा|
  • आधिकारिक पोर्टल पर जाने के बाद होम पेज पर आपको ” मंडी बाहर गेट पास सूची” फिर कल का चुनाव करना है|
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुल जाएगा|
  • जहां पर पूछी गई सारे विवरण जैसे कि:
  • डिस्ट्रिक्ट
  • फसल
  • मंडी
  • MM/PC/SY डेट आदि का चयन करने के बाद “View List” के विकल्प का चुनाव करना है|
  • इसके बाद आपके सामने मंडी बार गेट पास सूची प्रदर्शित हो जाएगी|

मेरी फसल मेरा ब्यौरा रजिस्ट्रेशन पर बैंक का विवरण कैसे देखें?

जो लाभार्थी किसान बैंक का विवरण देखना चाहते हैं वह नीचे दिए गए तरीकों को फॉलो करें|

  • सबसे पहले आपको मेरी फसल, मेरा ब्यौरा पोर्टल की अधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा|
Meri Fasal Mera Byora
  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद होम पेज पर आपको ” बैंक का विवरण बदलें” के विकल्प का चुनाव करना है|
Meri Fasal Mera Byora
  • इसके बाद आपके सामने एक फॉर्म खुल जाएगा|
  • अब आपको इस फोरम में पूछी गई जानकारियां जैसे कि: मोबाइल नंबर, कैप्चा कोड इत्यादि को दर्ज करना है|
Meri Fasal Mera Byora
  • यह सब जानकारियां भरने के बाद जारी रखें बटन पर क्लिक करें|
  • इसके बाद आपके अपने बैंक का विवरण आप आसानी से बदल सकते हैं|

मेरी फसल मेरा ब्यौरा गेट पास की तिथि कैसे बदलें?

  • सबसे पहले आपको मेरी फसल मेरा ब्योरा हरियाणा पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा|
  • अधिकारी पोर्टल पर जाने के बाद होम पेज पर ” गेट पास की तिथि बदलें” के विकल्प का चुनाव करना होगा|
  • विकल्प का चुनाव करने के बाद आपके सामने एक नया पेज ओपन हो जाएगा|
  • जहां पर आपको पूछेंगे विवरण जैसे कि: मोबाइल नंबर, कैप्चा कोड की तैयारी दर्ज करना है|
  • तथा अंत में जारी रखें बटन पर क्लिक करें|
  • इसके बाद आप अपने गेट पास की तिथि आसानी से बदल सकते हैं|
Meri Fasal Mera Byora Helpline Number

आज हमारे इस लेख में आपको मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल से संबंधित सभी जानकारियां प्रदान कर दी गई है| यदि आप फिर भी किसी अन्य समस्या का सामना कर रहे हैं तो नीचे प्रदान किए गए हेल्पलाइन नंबर के माध्यम से अपनी समस्या का समाधान पा सकते हैं|

  • हेल्पलाइन नंबर: 1800-180-2060
  • टोल फ्री नंबर: 1800-180-2117
  • ईमेल आईडी: hsamb.helpdesk@gmail.com

कंक्लुजन: हम आशा करते हैं हमारे द्वारा प्रदान की गई सभी जानकारियां जो कि मेरी फसल मेरा ब्यौरा रजिस्ट्रेशन 2023 से संबंधित है, आपको पसंद आई होंगी| हरियाणा राज्य संबंधी सरकारी योजनाओं की पूरी जानकारी आप हमारे इस पोर्टल पर प्राप्त कर सकते हैं|

Leave a Comment